वजन कैसे बढ़ाएं

वजन बढ़ाने के तरीके, घरेलू उपाय, नुस्खे, क्या खाएं, व्यायाम  (How to Gain Weight, Diet, Tips, Foods, Exercise in Hindi)

वर्तमान में लोगों को अपने वजन को लेकर काफी चिंता रहती हैं, क्योंकि जब वजन बहुत अधिक होता हैं तो यह काफी सारी बीमारियाँ पैदा करता है. किन्तु जब वजन बहुत कम होता हैं तो भी यह कुछ बीमारियों का कारण बन सकता हैं. जी हां, कई लोग बहुत दुबले और अपने उम्र एवं कद के हिसाब से कम वजन के होते हैं. ऐसे लोगों भी अपने कम वजन के कारण कई सारी बीमारियों का शिकार हो सकते हैं. यहाँ तक कि कम वजन से उनका शरीर भी उतना आकर्षक नहीं दिखता है. अतः कम वजन होना भी शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है. इन सभी समस्याओं के चलते ऐसे लोगों के मन में हमेशा एक ही सवाल उठता है कि वे अपने वजन को किस तरह से बढ़ायें. तो आज हम आपको सुरक्षित तरीकें से कैसे अपने वजन को बढ़ा सकते हैं. यह इस लेख के माध्यम से बताने जा रहे हैं.

कम वजन वाले लोगों के लिए वजन कम होने के कारण (Reasons for Lack of Weight Gain)

कुछ सामान्य कारण ऐसे होते हैं, जिसके चलते लोगों का वजन कम रहता हैं उनमें से कुछ इस प्रकार हैं –

  • जेनेटिक :- कुछ लोगों में वजन कम होने की समस्या जेनेटिक होती हैं. यानि जहाँ से उनका जन्म होता हैं. वहां उन्हें किस तरह से पोषित किया जा रहा हैं एवं उनके माता – पिता, परिवार का स्वास्थ्य किस तरह हैं व्यक्ति का वजन कम होना इन सभी चीजों पर निर्भर हो सकता है.
  • पर्याप्त खान पान का न होना :- किसी व्यक्ति में वजन कम होने की समस्या का एक मुख्य कारण यह भी हो सकता हैं कि उन्हें पर्याप्त पोषक तत्वों से युक्त खान – पान का नहीं मिल पाना. जिससे उनके शरीर में पोषक तत्वों की कमी के चलते यह समस्या आ जाती है.
  • शारीरिक रूप से सक्रिय जीवन शैली या नौकरी करना :- लोगों की रोजमर्रा की दिनचर्या का सही नहीं रहना वजन कम होने का एक अन्य कारण भी हो सकता है. क्योंकि कई बार ऐसा होता हैं कि हम काम में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि हम अपने शरीर के ऊपर ध्यान भी नहीं दे पाते. यहाँ तक कि हमारी जीवन शैली भी ऐसी ही हो जाती हैं. जिससे हमारा शरीर सक्रिय नहीं रहता. और इस तरह की परेशानी आढे आ जाती है.
  • ज्यादा व्यायाम कर लेना :- आपको यह तो पता हैं कि व्यायाम करना हमारे शरीर के लिए कितना आवश्यक होता हैं, लेकिन यदि इसे एक सीमा से ज्यादा किया जायें तो यह आपके शरीर में विपरीत परिणाम भी दे सकता है. जिनमें से एक हैं वजन का हद से ज्यादा कम हो जाना.
  • कैंसर :- कैंसर के ट्यूमर में अक्सर बड़ी मात्रा में कैलोरी बर्न होती है, जिसके कारण भी वजन कम हो सकता है.
  • मधुमेह :- यदि आपको डायबिटीज, मुख्य रूप से टाइप 1 की डायबिटीज हैं, तो उससे भी गंभीर रूप से आपका वजन कम हो सकता हैं जोकि आपके स्वास्थ्य के लिए सही नहीं होता.
  • इन्फेक्शन :- आपके शरीर में यदि कुछ इन्फेक्शन हैं, तो उसके कारण भी आपका अनियंत्रित वजन कम हो सकता है. इसमें पैरासाइट, ट्यूबरक्लोसिस और एचआईवी / एड्स शामिल हैं.

इन सभी कारणों से यदि आपका वजन कम हो रहा हैं तो आप तुरंत ही डॉक्टर के पास जायें और उनसे सलाह लें.

कम वजन वाले लोगों में कम वजन होने के दुष्प्रभाव (Side – Effects of Low Weight)

कम वजन वाले व्यक्तियों में उनके वजन कम होने के निम्न दुष्प्रभाव हो सकते हैं –

  • पुरुषों में जल्दी मृत्यु का खतरा :- पुरुषों में यह समस्या सबसे अधिक पाई जाती हैं, और यह पुरुषों के लिए अधिक हानिकारण भी होती हैं. क्योंकि इससे पुरुषों में जल्दी उनकी मृत्यु होने का खतरा बढ़ जाता है किन्तु महिलाओं में ऐसा बहुत कम होता है.
  • विकास होने में समय लगना :- इसके अलावा वजन कम होने से आपका शारीरिक एवं मानसिक दोनों ही रूप से विकास सही से नहीं हो पाता हैं. जिसके कारण आप बहुत दुबले रहते हैं और आपका शरीर भी उनता आकर्षक नहीं दिखता है.
  • एक कमजोर इम्यून सिस्टम का होना :- वजन कम होने से आपका इम्यून सिस्टम कमजोर हो जाता है, जिससे इन्फेक्शन का खतरा बढ़ा सकता है. एवं ऑस्टियोपोरोसिस, फ्रैक्चर एवं फर्टिलिटी की समस्या हो सकती है.
  • महिलाओं की समस्या :- वजन कम होने से महिलाओं में यह समस्या भी हो सकती हैं कि काई बार वे गर्भ धारण करने योग्य नहीं हो पाती. इसलिए उन्हें बांझपन की समस्या आ सकती है.
  • सर्जरी के दौरान जोखिम का बढ़ना :- यदि किसी व्यक्ति की सर्जरी होती हैं तो उस दौरान उनका शरीर इतना कमजोर होता हैं कि इसमें काफी सारे जोखिम भी हो सकते हैं.
  • कुपोषण :- वजन कम वाले व्यक्ति को पर्याप्त पोषण ना मिलने की वजह से ही वे कुपोषित रह जाते हैं, और उनका विकास नहीं हो पाता है.
  • खाने में विकार :- वजन कम होने से एनोरेक्सिया नर्वोसा, नामक एक गंभीर मानसिक विकार हो सकता है. जिससे आपको परेशानी का सामना करना पड़ सकता है.
  • थाइरोइड की समस्याएं :- यदि आपका वजन कम हो रहा है तो आपके शरीर में एक अतिसक्रिय थाइरोइड (हाइपरथायरोडीस्म) होने से चयापचय की समस्या को बढ़ावा मिल सकता हैं.

सुरक्षित तरीके से वजन बढ़ाने के लिए कुछ टिप्स (Some Tips for Gaining Weight Safely)

यदि आप सोडा या डोनट्स आदि का सेवन करते हैं तो आपका वजन बढ़ जायेगा. लेकिन एक बात आपको बता दें कि यह आपका वजन तो बढ़ा देगा लेकिन यह आपके स्वास्थ्य के लिए बहुत नुकसानदायक होगा. आपको यदि वजन बढ़ाना हैं तो आपको ऐसे तरीकें अपनाने चाहिए जो आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छे हो. और यह भी याद रखें कि आप जो भी तरीका अपना रहे हैं उसमें डॉक्टर का पूरी तरह से समर्थन हो. आइये आपको यहाँ हम कुछ तरीके के बारे में बता रहे हैं जिससे आप अपना वजन आसानी से बढ़ा सकते हैं –

  • ज्यादा बार खाइए :- जब आप कम वजन के होते हैं तो आप जल्द ही पूर्ण महसूस करते हैं. यानि आपका पेट जल्दी भर जाता हैं. ऐसे में आपको 2 या 3 बार ज्यादा भोजन करने के बजाय दिन में 5 से 6 बार भोजन करना चाहिये.
  • पोषक तत्वों से भरपूर भोजन का चयन करें :- एक ओवरऑल स्वस्थ डाइट के लिए यह आवश्यक हैं कि आप अपने डाइट में साबुत अनाज वाली ब्रेड एवं पास्ता, फल और सब्जियां, डेयरी उत्पाद, प्रोटीन युक्त चीजें जैसे दूध, मेवे और बीज आदि का चयन करें.
  • स्मूथी एवं शेक्स पीयें :- आप अपनी डाइट में कुछ तरल पदार्थ जैसे दूध, ताजे या जमे हुए फलों से बने स्मूथी या स्वास्थ्यवर्धक शेक शामिल करें. इसके अलावा आप अपनी डाइट में कुछ ग्राउंड फ्लैक्ससीड्स भी शामिल कर सकते हैं.
  • आप क्या पी रहे हैं यह देखें :- कुछ लोग ऐसे होते हैं जो भोजन करने के पहले तरल पदार्थ का सेवन करते हैं जैसे पानी, दूध या कोई भी चीजें, तो इससे उनका पेट भर जाता हैं और वे फिर भोजन नहीं करते हैं. ऐसे में यदि आप भोजन या नाश्ते के साथ उच्च कैलोरी युक्त पेय का सेवन करें तो बेहतर होगा. लेकिन ध्यान रहे इसका सेवन आपको भोजन करने के आधा घंटा बाद करना चाहिए न कि इसके साथ, तभी यह काम कर सकता है.
  • भोजन को चबाकर खाएं :- आप जब भोजन करते हैं तो आपको हर बाईट को अच्छे से चबा – चबाकर खाना चाहिए. क्योंकि इससे भोजन अच्छी तरह से पच जायेगा और यह आपके शरीर के लिए अच्छा भी होगा.
  • एनर्जी, मसालेदार एवं सॉस युक्त भोजन करें :- आप अपने भोजन में मसालेदार, एनर्जी युक्त और सॉस आदि से भरपूर खाना शामिल करें, क्योंकि खाना जितना स्वादिष्ट होता हैं वह उतना ही अधिक खाने में आसान एवं आपके लिए फायदेमंद होगा. साथ ही आप ऊर्जा से भरे खाद्य पदार्थ का भी सेवन करें. जैसे सूखें मेवे, तेल युक्त खाद्य पदार्थ, अनाज, मांस, आलू, आलू बुखारा, डार्क चॉकलेट, मूंगफली आदि इसी तरह की कुछ चीजें खाएं. ये सभी चीजें आपका वजन बढ़ाने में मददगार हो सकती हैं.
  • व्यायाम करें :- व्यायाम, विशेष रूप से स्ट्रेंग्थ ट्रेनिंग आपकी मांसपेशियों का निर्माण करके वजन बढ़ाने में आपकी सहायता कर सकता है. व्यायाम आपकी भूख को भी बढ़ा सकता है. इसके अलावा आप जिम जायें वहां प्रति सप्ताह 2 – 4 बार वजन उठायें, भारी वजन उठाने से भी आपका वजन बढ़ सकता है. यदि आपका शरीर सही आकर में नहीं है तो जिम जाने से वह भी सही हो जायेगा. आप अपने वजन पर अधिक से अधिक ध्यान दें. आपके लिए कार्डियो एक अच्छा विकल्प हो सकता है. कार्डियो करना फिटनेस और स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए ठीक है. लेकिन इसे ट्रेनर की सलाह लिए बिना न करें क्योंकि इसे यदि अधिक मात्रा में किया गया तो यह आपकी अतिरिक्त कैलोरी को जला सकता है. अतः आपको व्यायाम भी एक सीमा के अंदर करना है ताकि यह आपके शरीर के लिए नुकसानदायक न बने.
  • बड़ी प्लेट का उपयोग करें :- यदि आप अधिक कैलोरी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप निश्चित रूप से बड़ी प्लेट्स का उपयोग करें. क्योंकि छोटी प्लेट्स लोगों को खुद ही कम खाने के लिए प्रेरित करती है.
  • क्रीम युक्त कॉफ़ी पीयें :- यह आपकी डाइट में अतिरिक्त कैलोरी जोड़ने का सरल तरीका है. इसलिए आप रोजाना क्रीम युक्त कॉफ़ी का सेवन करें.
  • क्रिएटिन लें :- मांसपेशियों के निर्माण के लिए क्रिएटिन मोनोहाइड्रेट बेहतर हो सकता हैं जोकि आपकी मांसपेशियों के वजन में कुछ पाउंड हासिल करने में मदद कर सकता है.
  • अच्छी नींद लें :- आपकी मांसपेशियों का विकास अच्छी तरह से हो इसके लिए आवश्यक हैं कि आप अच्छी एवं भरपूर नींद लें.
  • प्रोटीन पहले खाएं बाद में सब्जियां :- यदि आपकी प्लेट में खाद्य पदार्थ मौजूद हैं तो सबसे पहले आप कैलोरी – घने और प्रोटीन युक्त चीजें खाएं और आखिरी में सब्जियां खाएं.
  • धूम्रपान ना करें :- धूम्रपान करने वालों का वजन धूम्रपान न करने वालों की तुलना में कम होता है. इसलिए आप इसका सेवन न करें. यदि आप इसका सेवन कर रहे हैं तो इसे तत्काल छोड़ दें, क्योंकि जब आप इसे छोड़ देंगे तो भी आपका वजन बढ़ने लगता है.

अतः इन सभी तरीकों का उपयोग कर आप अपने वजन को सुरक्षित तरीकें से बढ़ा सकते है. और इससे आपका शरीर भी स्वस्थ रहेगा.

अन्य पढ़े:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *