दुनिया का सबसे बड़ा खादी का तिरंगा ( World’s Largest Khadi Tricolour)

खादी का राष्ट्रीय ध्वज, भारतीय सेना दिवस पर अनावरण, राष्ट्रीय ध्वज से जुड़े बिंदु ( Khadi made National Flag, Displayed on Indian Army Day, Important points related to National Flag) 

‘तिरंगा’ सुनते ही हर भारतीय के हृदय में गर्व की अनुभूति प्रबल हो जाती है। आज के हमारे इस आर्टिकल के जरिए हम पाठको को विश्व के सबसे बड़े राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा के बारे में बताने जा रहे हैं। यह तिरंगा सेना दिवस के महत्वपूर्ण अवसर पर जैसलमेर में फहराया गया। जैसलमेर से जुड़े भारत पाकिस्तान बॉर्डर पर फहराए गए इस तिरंगे को बनाने में करीब सत्तर कारीगरों का श्रम लगा है। तो आइए इस आर्टिकल के जरिए एक नजर डालते हैं खादी से बने दुनिया के सबसे बड़े राष्ट्रीय ध्वज के बारे में।

दुनिया का सबसे बड़ा खादी का राष्ट्रीय ध्वज  ( World’s Largest Khadi Tricolour)

भारतीय सेना के संस्थापना दिवस यानि 15 जनवरी को जैसलमेर में इतिहास रच दिया गया है। खादी से बने राष्ट्रीय ध्वज को बनने में 49 दिन लगे। भारतीय सेना के जैसलमेर स्थित सैन्य स्टेशन पर 225 फीट लंबे एवं 150 फीट चौड़े इस राष्ट्रीय ध्वज को अनावरित किया गया है। बात इसके वजन की करें तो ये चौदह सौ किलोग्राम है और ध्वज पर बने अशोक चक्र के व्यास का क्षेत्र तीस फीट का है। बुनी हुई खादी से बने सूती ध्वजपट के इस्तेमाल से बने इस ध्वज को छब्बीस जनवरी तक रखा जाएगा। इस झंडे का अनावरण आजादी के 75वे वर्ष से जुड़े अमृत महोत्सव का हिस्सा है।

भारतीय सेना दिवस पर हुआ इसका अनावरण (Flag Displayed on Indian Army Day)

हर साल 15 जनवरी को भारतीय सेना के सम्मान में भारतीय सेना दिवस मनाया जाता है। इस दिन विशेषरूप से देश का मान बढ़ाने और इसकी सुरक्षा में सदैव तत्पर रहने वाले सैन्य बल के प्रति आभार और सम्मान प्रकट किया जाता है। इस साल भारत ने अपना 74वा सेना दिवस मनाया है। बात इस दिन के ऐतिहासिक महत्व की करें तो इस दिन फील्ड मार्शल के एम करियप्पा ने स्वतंत्र भारत के पहले सेना प्रमुख के रूप कार्यभार संभाला था। तब भारतीय सेना में करीबन दो लाख सैनिक थे।

राष्ट्रीय ध्वज से जुड़े कुछ मुख्य बिंदु (Important points related to National Flag) 

  • भारत की संविधान सभा द्वारा राष्ट्रीय ध्वज को 22 जुलाई, 1947 को स्वीकृति मिली थी।
  • राष्ट्रीय ध्वज को पिंगली वेंकैया ने डिजाइन किया है।
  • राष्ट्रीय ध्वज की लंबाई और चौड़ाई 3:2 अनुपात में है।
  • सफेद पट्टी पर मौजूद चक्र अशोक चक्र से लिया गया है जिसने चौबीस तिल्लियां मौजूद हैं।
  • कानूनी रूप से राष्ट्रीय ध्वज खादी का बनाया जाता है।

और पढ़ें-

मेघालय फ्लाइंग बोट

आइएमएफ की पहली महिला अध्यक्ष

भारत रूस वार्षिक बैठक

क्या भीख में मिली आजादी

Leave a Reply

Your email address will not be published.